पीयूष गोयल होंगे वित्तमंत्री या चौंकाने वाला मामला होगा?
 नई दिल्ली।

नरेंद्र मोदी गुरुवार को प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने जा रहे हैं. ऐसे में उनके मंत्रिमंडल की तस्वीर अब साफ होने लगी है. पार्टी के वरिष्ठ नेता और पिछली सरकार में वित्त मंत्री रहे अरुण जेटली ने खत लिख अपील की है कि उन्हें इस कार्यकाल में मंत्री ना बना जाए, क्योंकि उनकी सेहत खराब है. ऐसे में राजनीतिक गलियारों में ये सवाल दौड़ना शुरू हो गया है कि देश का अगला वित्त मंत्री कौन होगा? क्या पहले की तरह पीयूष गोयल ये पद संभालेंगे या फिर एक बार नरेंद्र मोदी हर किसी को चौंकाएंगे.

क्या पीयूष गोयल बनेंगे वित्त मंत्री?

अगला वित्त मंत्री बनने में पीयूष गोयल का नाम इसलिए आगे आ रहा है क्योंकि मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में जब अरुण जेटली की तबीयत खराब हुई थी तो उन्होंने ही इस पद को संभाला. पीयूष गोयल ने ही मोदी सरकार का आखिरी बजट पेश किया था. ऐसे में उनका नाम इस रेस में सबसे आगे है.

क्या चौंकाएंगे नरेंद्र मोदी?

पीयूष गोयल का नाम भले ही आगे हो लेकिन तय नहीं है. ऐसे में कई और नाम हैं जो सामने आ रहे हैं. इनमें भाजपा अध्यक्ष अमित शाह का नाम भी शामिल है, दरअसल वित्त मंत्री के पद को सरकार में नंबर दो का पद माना जाता है. ऐसे में अगर अमित शाह सरकार का हिस्सा बनते हैं तो वह वित्त मंत्रालय या फिर गृह मंत्रालय ही संभाल सकते हैं.

तीसरा नाम जो चर्चा में बना हुआ है वह निर्मला सीतारमण का. फिलहाल उनके पास रक्षा मंत्रालय था, ऐसे में अगर इस बार उनका मंत्रालय बदला जाता है तो वित्त मंत्रालय की जिम्मेदारी उन्हें मिल सकती है. इससे पहले मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में उन्होंने कॉर्पोरेट मंत्रालय की जिम्मेदारी भी संभाली थी. ऐसे में उनके नाम को जोर मिलता दिख रहा है.

हालांकि, अभी ये अटकलें ही हैं गुरुवार को जब शपथ ग्रहण होगा और उसके बाद कार्यभार का बंटवारा किया जाएगा, तभी ये तस्वीर साफ होती नजर आएगी.

जेटली ने चिट्ठी लिख मोदी से की है अपील

आपको बता दें कि बुधवार को अरुण जेटली ने ट्विटर पर एक चिट्ठी जारी की. अरुण जेटली ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिख अपील की है कि उन्हें मंत्री बनाने का विचार ना किया जाए. जेटली ने अपने खत में लिखा है कि पिछले 18 महीने से उनकी तबीयत खराब है ऐसे में वह जिम्मेदारी को नहीं निभा पाएंगे. इसलिए उन्हें मंत्री बनाने पर कोई विचार ना करें.

नरेंद्र मोदी गुरुवार शाम सात बजे राष्ट्रपति भवन में प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे. उनके साथ कैबिनेट मंत्री भी शपथ लेंगे, ये समारोह राष्ट्रपति भवन के प्रांगण में होगा. इसमें करीब 6500 मेहमान शामिल हो सकते हैं.