फाइव स्टार होटल में एमडी को अगवा कर फिरौती मांगने की कोशिश, पकड़े गए
 नई दिल्ली।  

शनिवार (19 मई) को एक फाइव स्टार होटल से एक कंपनी के एमडी को अगवा किए जाने का मामला सामने आया है। आरोपियों ने मुंबई के मरीन इंजीनियरिंग कंपनी के 64 वर्षीय मैनेजिंग डायरेक्टर को चाणक्यपुरी के एक होटल से अगवा किया था। इसके बाद आरोपियों ने उन्हें छोड़ने के लिए 30 लाख रुपए की फिरौती की मांगी लेकिन सभी पुलिस के शिकंजे में फंस गए। पुलिस ने इस मामले में शनिवार को चार महिलाओं सहित छह लोगों को गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने वॉट्सऐप कॉल के जरिये आरोपियों की लोकेशन ट्रैक कर उनका पता लगाया।

सीसीटीवी फुटेज से खुला मामलाः शुक्रवार (18 मई) को 11 बजे पुलिस को मरीन इंजीनियरिंग कंपनी के सीनियर मैनेजर ने उनके एमडी को दिल्ली के एक घर में बंधक बनाए जाने के बारे में फोन आया। जांच के दौरान पता चला कि पीड़ित ने गुरुवार (16 मई) की रात फाइव स्टार होटल में चेक इन किया था। होटल के सीसीटीवी फुटेज से पुलिस को पता चला कि एक संदिग्ध महिला शुक्रवार की शाम को होटल पहुंची और पीड़ित को कुछ मिनटों के बाद होटल से अपने साथ बाहर लेकर चली गई। इसके बाद दोनों पार्किंग में खड़ी हुंडई वर्ना कार में बैठकर चले गए।

एडिनशल डीसीपी (नई दिल्ली) ईश सिंघल ने बताया कि आरोपियों की कार के रजिस्ट्रेशन नंबर से लोकेशन को ट्रैक करने के लिए कई टीमों का गठन किया। इस दौरान अपहरणकर्ता फिरौती की रकम के लिए कंपनी के अधिकारियों को फोन करते रहे। पुलिस ने बताया कि पहचान को छिपाने के लिए आरोपियों द्वारा वॉट्सऐप कॉल का सहारा लिया गया था।

पुलिस को पता लगा कि कार मालिक लक्ष्मी नगर के एक घर में छिपा हुआ है, इसके बाद पुलिस उसके घर पहुंची। पूछताछ के दौरान आरोपी ने व्यवसायी को अगवा करने और जल्दी पैसा कमाने के लिए साजिश का हिस्सा बनने की बात स्वीकार की। पुलिस ने बताया कि बुजुर्ग एमडी को एक कमरे में लॉक करके रखा गया था। पुलिस द्वारा उन्हें छुड़ाया गया और अस्पताल में भर्ती करवाया गया।

 अपने बयान में एमडी ने अधिकारियों को बताया कि वह मुंबई से दिल्ली एक बिजनेस ट्रिप पर आए थे और वह इस हफ्ते दिल्ली में रूकने वाले थे। शुक्रवार शाम को उनके पास एक महिला का फोन आया। पीड़ित ने बताया कि वह महिला को पहले से जानते थे। उन्होंने बताया कि शुक्रवार को महिला एक और महिला के साथ उनसे मिलने पहुंची। कुछ देर बात करने के बाद महिला ने एमडी को अपने एक दोस्त से मिलवाने की बात कही और उन्हें अपनी कार में उनके साथ चलने के लिए मना लिया।

 

लगाया बलात्कार का आरोपः पीड़ित ने बताया कि महिलाएं उसे लक्ष्मी नगर में एक घर में ले गईं और उसे इंतजार करने के लिए कहा। कुछ समय बाद दो अन्य महिलाएं वहां पहुंचीं और एमडी पर अपनी बेटी के साथ बलात्कार करने का आरोप लगाने लगीं। जब उसने इनकार किया, तो उन्होंने उन्हें छोड़ने के लिए 30 लाख रुपये देने की मांग की। शुरुआत में व्यवसायी ने फिरौती की रकम देने के लिए इनकार कर दिया था, लेकिन अपहरणकर्ताओं ने उन्हें एरिया मैनेजर को फोन करने पर मजबूर किया और पैसे की व्यवस्था करने के लिए मजबूर कर दिया। पुलिस ने कहा कि जिस कार से एमडी को अगवा किया गया था वह कार बरामद कर ली गई है। कार मालिक और उनकी मदद करने वाले एक पुरुष के साथ चार महिलाओं को गिरफ्तार कर लिया गया है।