रामवीर उपाध्याय बसपा से निलंबित
लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी (BSP) ने पूर्व मंत्री और सादाबाद से विधानसभा सदस्य रामवीर उपाध्याय को पार्टी से निलंबित कर दिया। उन्हें विधानसभा में पार्टी के मुख्य सचेतक के पर से भी हटा दिया गया है। उन पर यह कार्रवाई लोकसभा चुनाव में पार्टी विरोधी गतिविधियों के चलते हुई है।  
रामवीर उपाध्याया के निजी सचिव रानू पंडित ने इस खबर की पुष्टि की। रामवीर इस समय आगरा स्थित अपने आवास पर हैं। उनके BSP से निलंबित होने की खबर आने के बाद बीजेपी में जाने की चर्चा ने एक बार फिर जोर पकड़ लिया है। 
BSP के राष्ट्रीय महासचिव मेवालाल गौतम ने कार्रवाई का पत्र भेजा है। जिसमें उल्लेख है कि रामवीर उपाध्याय ने आगरा, फतेहपुर सीकरी और अलीगढ़ में बसपा के प्रत्याशियों का खुलकर विरोध किया और पार्टी विरोधी उम्मीदवारों का समर्थन किया। गौरलतब है कि उनकी एसपी सिंह बघेल से मुलाकात काफी चर्चा में रही थी।

पत्र में उल्लेख है कि अब वे पार्टी के किसी कार्यक्रम में भाग नहीं ले सकते। निलंबन की जानकारी मिलते ही यह मैसेज सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। शहर में हर ओर इसकी चर्चा हो रही। पहले भी उनके भाजपा में जाने की चर्चा रहीं थीं।