रविवार को दिव्यांग बच्चे दिल्ली से लखनऊ हवाई यात्रा करेंगे : राजन श्रीवास्तव

नोएडा। नोएडा के प्रसिद्ध संस्था श्री नारायण सांस्कृतिक चेतना न्यास व चित्रगुप्त सभा ट्रस्ट के सौजन्य से रविवार 26 मई 2019 को दिव्यांग बच्चों को दिल्ली से लखनऊ की हवाई यात्रा जेट विमान से कराई जाएगी। ये बच्चे दिल्ली से हैं।  यह जानकारी आज सेक्टर 62 में आयोजित प्रेस वार्ता में संस्था के प्रमुख राजन श्रीवास्तव ने दी।


राजन श्रीवास्तव ने बताया कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व एवं सुशासन के 5 साल पूर्ण होने पर 111 दिव्यांग बच्चों सहित उनके शिक्षक, डॉक्टर एवं संस्था के सदस्यों को उनके उत्साहवर्धन हेतु तृतीय दिव्यांग हवाई यात्रा करवाने जा रहे हैं।
उन्होंने बताया कि उनकी संस्था की ओर से दिव्यांग छात्र/ छात्राओं को पहली हवाई यात्रा 2017 में दिल्ली से जयपुर कराई गई थी। वहां सभी बच्चों को प्रोत्साहित करने के लिए स्थानीय कलाकारों द्वारा रंगारंग कार्यक्रम भी आयोजित किया गया था। कार्यक्रम में बच्चों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया था।


उन्होंने बताया कि संस्था की ओर से दूसरी हवाई यात्रा 2018 में दृष्टिबाधित छात्रों को दिल्ली से अहमदाबाद कराई गई थी। वहां तत्कालीन गवर्नर ओ पी कोहली ने छात्रों को हौसला आफजाई किया था। महामहिम राज्यपाल ने अपने संबोधन में छात्रों को सकारात्मक प्रेरणा से भरपूर शिक्षा भी दी थी।


राजन ने बताया कि उनकी संस्था द्वारा रविवार 26 मई 2019 को दिल्ली से लखनऊ की यात्रा में 111 दिव्यांग बच्चे, उनके शिक्षक एवं संस्था के सदस्य शामिल रहेंगे। लखनऊ में महामहिम राज्यपाल ने उन बच्चों से मिलने का समय 12:00 से 1:00 बजे तक दिया है। महामहिम राज्यपाल द्वारा बच्चों को अपना आशीर्वाद एवं उद्बोधन दिया जाएगा।


राजन श्रीवास्तव ने बताया कि ये बच्चे दिल्ली से सुबह 8:30 बजे हवाई यात्रा करेंगे और लखनऊ सुबह 10:15 बजे पहुंचेंगे।
उन्होंने बताया कि इन बच्चों को ठहरने के लिए रेडिसन होटल लखनऊ में व्यवस्था की गई है। बच्चों के मनोरंजन के लिए सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन भी किया गया है। शाम 7 बजे बच्चे वापसी के लिए रवाना होंगे।


उन्होंने कहा कि वे 2005 से विभिन्न संस्थाओं से जुड़कर काम करते रहे हैं। पर, सन 2013 से उन्होंने अपनी संस्था बनाकर समाज सेवा का काम पूरी निष्ठा से कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि उनकी संस्था मानवता, धर्म एवं सांस्कृतिक कार्यक्रमों के अलावे समाज के ऐसे तबके जो समाज से पीछे छूटते जा रहे हैं, उन्हें सामने  व आगे लाने का वे  प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि उनका कार्यक्रम उनके माता पिता को समर्पित होता है।
उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिव्यांगों के लिए देश में जितना काम किया है, उतना अन्य किसी ने नहीं किया है। वे इसके लिए प्रधानमंत्री को साधुवाद भी दिया।


उन्होंने बताया कि बच्चों को हवाई यात्रा कराने का मकसद यह है कि इन बच्चों में हीन भावना न जागे। ये बच्चे भी राष्ट्र निर्माण के अंग हैं। ये किसी से कम नहीं है। इन्हें मौका मिलता रहे तो ये सपनों की उड़ान भी उड़ना जानते हैं।


राजन श्रीवास्तव ने प्रेसवार्ता में अपने संस्था के कार्य कलापों के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि वे सरकारी अनुदान नहीं लेते। वे प्राईवेट अनुदान स्वीकार करते हैं, वह भी नकद नहीं, बल्कि बैंक के माध्यम से। वे प्रतिवर्ष संस्था के आय- व्यय का ऑडिट भी करवाते हैं।
इस मौके पर ज्योति सक्सेना, अतुल नागपाल, निधि सक्सेना, रितु सिंह आदि शामिल रहे।