विल्डर पर अपने सहयोगी को ठगने का आरोप


आरोपी सुनील वैद


***************


 थाना साहिबाबाद क्षेत्र में बिल्डर पर लगा अपने ही सहयोगी के पैसे ठगने का आरोप


* आरोपी बिल्डर पर पहले भी लग चुके है कैब सर्विस के नाम पर फर्जीवाड़े के आरोप


प्रमोद कुमार,  गाजियाबाद



गाजियाबाद। थाना साहिबाबाद इलाके के एक बिल्डर पर आरोप लगा है कि उसने अपने ही सहयोगी के 46 लाख रुपए ठग लिए। मामला साहिबाबाद थाना क्षेत्र का है जहां सुनील वैद नाम के बिल्डर द्वारा गौरव जैन के साथ ठगी का आरोप लगा है।


बताया जा रहा है कि सुनील वैद राधेश्याम पार्क साहिबाबाद का रहने वाला है। उसने गौरव जैन नाम के आदमी को अपने ठगी का शिकार बनाया है।


 गौरव जैन का आरोप है कि 2014 में बिल्डर ने उससे पार्टनरशिप में एक फ्लैट टॉप बनाने का काम करने का झांसा दिया। इस झांसे में आकर गौरव जैन ने सुनील जैन को 26 लाख रुपए नंबर 1 में उसके अकाउंट में ट्रांसफर कर दिए और 14 लाख रुपए उसने नंबर 2 में सुनील को दिए।जहां सुनील ने गौरव से कहा था कि मैंने जमीन ले ली है और उस पर हम फ्लैट बनाकर बेचेंगे और 2015 तक तुम्हें लगभग मुनाफा हो जाएगा और सुनील ने उन्हें ₹ 46 लाख रुपए की एक प्रॉफिट की पर्ची बनाकर दी।


लेकिन जब गौरव जैन ने सुनील से पैसे मांगे तो सुनील ने कहा कि वृंदावन गार्डन में एक साइट और चालू कर रहे हैं तो हम आपको और डबल मुनाफा देंगे। इससे वह  सुनील के झांसे में आ गया और उस पर विश्वास कर लिया। लेकिन अब सुनील ने ना तो इसको पैसा ही दिया है ना ही इसका प्रॉफिट दिया तो अब यह व्यक्ति दर-दर पुलिस की ठोकरे खा रहा है और गुहार लगा रहा है की उसके पैसे वापस दिए जाएं ।


वहीं गौरव जैन द्वारा आरोप यह भी लगाया गया है कि सुनील ने जो अपने फ्लैट बनाए हैं वह भी जीडीए मानचित्र के अनुरूप नहीं बनाए हैं। वह अपने आप को एक दबंग व्यक्ति बताता है और इस पीड़ित व्यक्ति को जान से मारने की धमकी भी देता है । पीड़ित गौरव जैन ने पुलिस व एसएसपी गाजियाबाद को बिल्डर सुनील के खिलाफ शिकायत भी दर्ज कराई है, जहां पुलिस ने अभी तक कोई कार्यवाही आरोपी बिल्डर के खिलाफ नहीं की है। वहीं गोरव जैन पुलिस से आस लगाए बैठा है कि पुलिस शायद इसकी कोई मदद करे।