अलीगढ़ में ढाई साल की बच्ची की हत्या पर पूरे देश में आक्रोश

 

अलीगढ़: उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में एक ढाई साल की बच्ची की हत्या ने पूरे देश को हिलाकर रख दिया है. जो भी इस घटना के बारे में सुन रहे हैं उनका दिल दहल जा रहा है. घटना के बाद से लोगों में गुस्सा फूट रहा है. सोशल मीडिया पर लोग तरह-तरह से अपने गुस्से का इजहार कर रहे हैं. इसी सिलसिले में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भी बयान दिया है. प्रियंका गांधी ने कहा कि यह हम कैसा समाज बना रहे हैं जहां एक मासूम बच्ची की जघन्य तरीके से हत्या कर दी जाती है. उन्होंने अपराधियों को कड़ी से कड़ी सजा देने की मांग की. बता दें कि जिस बच्ची की हत्या हुई है वह 30 मई को अपने घर के बाहर से गायब हो गई थी. बाद में 2 जून को उसकी लाश कूड़े के ढेर में मिली. घटना के आरोपियों को पुलिस जेल भेज चुकी है. पुलिस मामले की हर एंगल से छानबीन कर रही है.

 

अलीगढ़ की मासूम बच्ची के साथ हुई अमानवीय और जघन्य घटना ने हिलाकर रख दिया है। हम ये कैसा समाज बना रहे हैं? बच्ची के माता-पिता पर क्या गुजर रही है ये सोचकर दिल दहल जाता है।अपराधियों को कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए।

 

यह है पूरा मामला

घटना 30 मई की है. इस दिन बच्ची अपने घर के बाहर खेल रही थी. इसी दौरान यहां से वह गायब हो गई. इसके बाद घर के लोगों ने बच्ची की तलाश शुरू की. बच्ची के नहीं मिलने पर घरवालों ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई. पुलिस ने गुमशुदगी का मामला दर्ज कर लिया और बच्ची की तलाश शुरु कर दी. पुलिस और बच्ची के परिजन लगातार उसकी तलाश कर रहे थे. इस बीच 2 जून को बच्ची की लाश कूड़े के ढेर में मिली. जानवारों ने लाश को क्षतविक्षत कर दिया था. बच्ची की लाश को वहां कूड़ा डालने पहुंचे किसी ने देखा. जब ये जानकारी बच्ची के पिता को हुई तो वो वहां पहुंचे और अपनी बच्ची को पहचान लिया. इसके बाद आक्रोशित भीड़ ने वहां जाम लगा दिया और प्रदर्शन करने लगी.

घटना पर क्या कहती है पुलिस

 

अलीगढ़ के एसएसपी आकाश कुलहरि ने बताया कि आरोपी जाहिद और असलम का बच्ची के पिता से पैसों के लेनदेन को लेकर विवाद था. ये दोनों लोग मजदूर हैं और विवाद के बाद जाहिद ने बच्ची के पिता को धमकी भी दी थी. उन्होंने बताया कि पुलिस ने पूछताछ के लिए जाहिद को हिरासत में लिया था जहां उसने अपना जुर्म कुबूल कर लिया और बताया कि उसने अपने साथी असलम के साथ इस वारदात को अंजाम दिया था. एसएसपी ने कहा कि दोनों को जेल भेज दिया गया है.

 

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा मामला

सोशल मीडिया पर इस घटना के बारे में तरह-तरह की बातें फैलाई जा रही हैं. हालांकि पुलिस का कहना है कि ये कोई हेट क्राइम नहीं है. पुलिस ने ये भी बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक बच्ची के साथ ना तो बलात्कार हुआ है और ना ही लाश पर तेजाब डाला गया है जैसा कि सोशल मीडिया में दावा किया जा रहा है.