बरौला में धरनारत किसानों का आंदोलन जिलाधिकारी के आश्वासन के बाद समाप्त घोषित

नोएडा। भारतीय किसान यूनियन भानु के नेतृत्व में नौएडा प्राधिकरण की गांव उजाडू नीति के खिलाफ चल रहा किसानों का अनिश्चितकालीन धरना आज 14 वें  दिन जिलाधिकारी के आश्वासन के बाद समाप्त हो गया। आन्दोलन में नौएडा प्राधिकरण के अधिकारी व तोड़ फोड़ दस्ते और किसानों के बीच कई बार संघर्ष होते होते बचा। आज सुबह वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक वैभव कृष्ण और जिलाधिकारी बीएन सिंह की मध्यस्था में नौएडा के अधिकारी व किसानों के बीच लम्बी वार्ता के बीच समझौता हुआ और जिलाधिकारी ने 15 जुलाई तक किसानों की आबादी को न तोड़ने का आश्वासन दिया और सभी ग्रामवासियों को आबादी निस्तारण को लेकर प्रयास करने का भरोसा दिया। उसके बाद धरने पर सिटी मजिस्ट्रेट शैलेन्द्र मिश्रा व सीओ आलोक कुमार पहुंचे और किसानों से धरना समाप्त करने का अनुरोध किया। उनके अनुरोध पर किसानो ने 15 जुलाई तक धरना समाप्त करने की घोषणा की।
आज भी धरने पर क्षेत्र के महिला, बच्चे, बुजुर्ग, व किसान यूनियन भानु के कार्यकर्ता भारी संख्या में मौजूद रहे। 
आज धरने की अध्यक्षता बाल किशन चौहान व संचालन नौएडा महानगर अध्यक्ष अरुण शर्मा ने किया। पूर्व विधायक दादरी सत्यवीर सिंह गुर्जर ने आन्दोलन करने वाले व क्षेत्र सेआए सभी किसानों के सफल व शांति पूर्वक आन्दोलन को लेकर सभी लोगो का धन्यवाद किया।
आन्दोलन का नेतृत्व कर रहे राष्ट्रीय महासचिव चौ० बेगराज गुर्जर ने कहा कि गौतमबुद्ध नगर के तीनो प्राधिकरण नौएडा, ग्रेटर नोएडा व यमुना के अधिकारी किसानो का काम नहीं कर रहे। किसान प्राधिकरणों के चक्कर काट -काट कर परेशान हैं। जल्द ही तीनों क्षेत्रों में अलग अलग किसानों की पंचायत बुलाकर तीनों प्राधिकरण पर बड़ा आन्दोलन कियाजाएगा।
आज  मुख्य रूप से मनोज नागर,राजेन्द्र नागर,नरेन्द्र चौधरी, सुखबीर खलीफा,प्रदेश महामंत्री बीसी प्रधान, प्रेम सिंह भाटी,राजबीर मुखिया,विजय चौहान,महेन्द्र चौहान, सुभाष चौहान, ठा•ओमवीर सिह, गीता भाटी,करण ठाकुर,विक्रम चौहान,धर्मपाल प्रधान,राजेन्द्र यादव,हरवीर चौहान,कर्मवीर गुर्जर,अनिल बैसोया, अशोक चौहान,प्रवीण बैसोया सहित अन्य लोग मौजूद रहे