पत्रकारिता की आत्मा की सुरक्षा सबसे बड़ी चुनौती: रामबहादुर राय

 


* पत्रकारिता की आत्मा की रक्षा करना पत्रकारों के सामने सबसे बड़ी चुनौती: रामबहादुर राय
गाजियाबाद। देश के वरिष्ठ पत्रकार व इंदिरा गांधी राष्ट्रीय कला केंद्र के अध्यक्ष पद्मश्री रामबहादुर राय ने कहा है कि 2019 के लोकसभा चुनाव में पत्रकारिता ने अपना धर्म सही से नहीं निभाया। बदलते समय में पत्रकारिता की आत्मा की रक्षा करना पत्रकारों के सामने सबसे बड़ी चुनौती है।
श्री राय विजय नगर स्थित उत्सव भवन में हिंदी पत्रकारिता दिवस के उपलक्ष्य में पत्रकार वेलफेयर एसोसिएशन (रजि.) के पांचवें स्थापना दिवस पर आयोजित 'पत्रकार गौरव' व 'राष्ट्रीय जनमोर्चा सम्मान' समारोह में बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे।


कार्यक्रम का शुभारंभ हिन्दी दैनिक युग करवट के संपादक सलामत मियां, पत्रकार वेलफेयर एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष जितेन्द्र बच्चन, दिल्ली से प्रकाशित हिन्दी दैनिक राष्ट्रीय जनमोर्चा की संपादक डॉ कमलेश भारद्वाज, आईआईएमटी न्यूज चैनल के संपादक अनिल निगम और वरिष्ठ पत्रकार रवि अरोड़ा ने संयुक्त रूप से मां सरस्वती की मूर्ति के सामने दीप प्रज्जवलित कर किया।इस अवसर पर देश के पांच राज्यों महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, राजस्थान और दिल्ली से आए 60 पत्रकारों को 'पत्रकार गौरव सम्मान' और शिक्षा, समाजसेवा, कला, साहित्य और चिकत्सा से जुड़ी 41 हस्तियों को 'राष्ट्रीय जनमोर्चा अवार्ड' से सम्मानित किया गया।
सम्मान समारोह के साथ-साथ एक संगोष्ठी का भी आयोजन किया गया।विषय था- 'पत्रकारिता का नया दौर और चुनौतियां'।


वरिष्ठ पत्रकार रामबहादुर राय ने अपने सम्बोधन में कहा कि आजादी से पहले अख़बार भले ही ब्लैक एंड व्हाइट छपते हों, लेकिन उनमें पत्रकारों व पत्रकारिता की आत्मा होती थी, लेकिन आज के दौर में अख़बार रंगीन हैं पर पत्रकारिता की आत्मा नहीं दिखती। ऐसे में पत्रकारों के सामने पत्रकारिता की आत्मा की रक्षा करने की सबसे बड़ी चुनौती है। श्री राय के अलावा गोष्ठी में वरिष्ठ पत्रकार रवि अरोड़ा, सलामत मियां, अनिल निगम, जितेन्द्र बच्चन, शिक्षाविद गुलशन भांबरी ने भी अपने विचार रखे। दिल्ली दूरदर्शन के कलाकार सुनील सक्सेना, सिंगर, एंकर और समाजसेवी हेमा सक्सेना ने हिन्दी फिल्मों के गीत सुनाकर और कवि डॉ. चेतन आनंद व उनके साथियों ने काव्य पाठ कर के खूब तालियां बटोरी। कार्यक्रम में पत्रकार वेलफेयर एसोसिएशन की गाजियाबाद इकाई के अध्यक्ष सुनील गौतम, उनकी पूरी टीम के अलावा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ अशोक कुमार, महासचिव सुधांशु श्रीवास्तव आदि मौजूद रहे।