अग्रवाल स्वीट्स हरौला से 120000 छेने के रसगुल्ले किये गए नष्ट, छापे में पाए गए मख्खी, मच्छर आदि कीट

नोएडा।  दीपावली के अवसर पर आम जनता को शुद्ध मिठाइयों की उपलब्धता हेतु खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग द्वारा जनपद में अनेक स्थानों पर मिठाई के प्रतिष्ठानों पर कार्यवाही की गई।


 मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी  अक्षय गोयलके नेतृत्व में टीम द्वारा सेक्टर-4 हरौला स्थित अग्रवाल स्वीट्स का निरीक्षण कर सोन पापड़ी और छेने के रसगुल्ले के नमूने भरे गए। मौके पर उपस्थित लगभग 600 किलो छेने के रसगुल्ले में मक्खी मच्छर आदि कीट पाए जाने पर लगभग ₹120000 के रसगुल्ले को नष्ट कराया गया।



इसके पश्चात डी.30  सैक्टर  80 स्थित माया स्वीट्स के मिठाई बनाने के कारखाने का निरीक्षण किया गया। यहां पर बड़ी मात्रा में मिठाई बनती पाई गई। यहां से बूंदी के लड्डू और बर्फी का नमूना संग्रहित कर जांच हेतु प्रयोगशाला लखनऊ को प्रेषित किया गया। यह कारखाना बिना लाइसेंस के संचालित पाए जाने पर टीम द्वारा इस कारखाने को सील कर दिया गया है।


टीम द्वारा सेक्टर 93 नोएडा स्थित हनी मनी टॉप रिटेल प्राइवेट लिमिटेड से शिकायत के आधार पर जयपुर भेल,  घी और ब्रेड का नमूना जांच हेतु संग्रहित किया गया। एसके सिंह खाद्य सुरक्षा अधिकारी के नेतृत्व में दूसरी टीम द्वारा गौर सिटी स्थित सिटी प्लाजा में बीकानेर स्वीट से सोन पापड़ी और  बर्फी का नमूना, अमोल रस स्वीट शॉप से रसगुल्ले का नमूना, मिठास स्वीट्स से  मिल्क केक का नमूना, दाऊजी स्वीट्स बिसरख से कलाकन्द  का नमूना संग्रहित कर जांच हेतु प्रयोगशाला को प्रेषित किया गया।


उलेखनीय है कि जिलाधिकारी के निर्देश पर त्यौहार के मौके पर मिठाई निर्माताओं और विक्रेताओं का सघन निरीक्षण किया जा रहा है।