बड़ा दर्द दे गया प्रियांशु चौरसिया की मौत

बड़ा दर्द दे गया गोल्डमेडलिष्ट  प्रियांशु चौरसिया की मौत की ख़बर
*******************************************
चौरसिया समाज ही नहीं, बल्कि देश के लिए प्रियांशु चौरसिया की मौत बड़ा दर्द दे गया है। उसकी दिल्ली के एक होटल में करंट से मौत यह हादसा था या साजिश, यह जांच के बाद ही पता चलेगा। पर, प्रियांशु चौरसिया का अंतर्राष्ट्रीय निशानेबाजी में मेडल लाने का सपना हक़ीक़त के धरातल पर नहीं उतर सका। फिर भी उसके जीवन का यादगार लम्हा उसके जीते राज्यस्तरीय जूनियर निशानेबाजी में गोल्ड मेडल सहित अन्य 30 मेडल गवाह बने रहेंगे। 



 प्रियांशु देहरादून में 11वीं कक्षा में  पढ़ता था और निशानेबाजी का ट्रेनिंग लेता था।  वह उत्तराखंड से प्रतिनिधित्व कर रहे थे। वह बिहार के नवादा जिले के छतारबार गांव का मूल निवासी था। उसके मौत के बाद गांव में सन्नाटा है। समाज में शोक की लहर है। ईश्वर उसकी आत्मा को शांति दें, हमारा यही अर्ज है।