एसोचैम बिजनेश प्रतिनिधिमंडल मनीला में राष्ट्रपति के साथ शामिल रहे डॉ. डी. के.गुप्ता

नोएडा। एसोचैम बिजनेस प्रतिनिधिमंडल जिसकी अगुवाई भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद मनीला में १८ -१९ अक्टूबर २०१९ को की थी, इसी प्रतिनिधिमंडल में डॉ. के. गुप्ता , चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर फेलिक्स हॉस्पिटल इंडिया के हेल्थकेयर सेक्टर का सकुशल प्रतिनिधित्व करके वापस लौटे। 


डाक्टर डी के गुप्ता , चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर फेलिक्स हॉस्पिटल एवं डाक्टर रश्मि गुप्ता (फेलिक्स हॉस्पिटल ) एसोचैम बिजनेस प्रतिनिधिमंडल में शामिल हुये थे, जिसकी अगुवाई भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने की।



डाक्टर डी के  गुप्ता , फ़िलीपीन्स के बाज़ार में भारतीय हेल्थकेयर कम्पनियों के लिए व्यापार में वृद्धि की सम्भावनाओं , नये व्यापार के अवसरों को लेकर हेल्थकेयर के क्षेत्र का सफल प्रतिनिधित्व किया । 
डाक्टर गुप्ता ने कहा कि आज भारत विश्व भर में मेडिकल टूरिज़म के क्षेत्र में पसंदीदा देश बनकर उभरा है। क्यूँकि हम अन्य देशों के मुक़ाबले कम क़ीमत पर बेहतर स्वास्थ्य सेवाएँ उपलब्ध करवाने की राह पर है ।  हमारे डाक्टर और हमारे अस्पताल विश्व स्तरीय मूलभूत सुविधाएँ लिए , अत्याधुनिक तकनीक और उपकरणों के साथ विश्व भर में अग्रणी है। अधिकतर हॉस्पिटल जेसीआई और एनएबीएच जैसी संस्थाओं से मान्यता प्राप्त हैं। इस सभी में दूसरे देशों से आने वाले मरीज़ों के लिए मेडिकल वीज़ा का आसानी से उपलब्ध होना निश्चित ही मेडिकल टूरिज़म के लिए एक औषधि का काम कर रहा है। भारत और फिलीपीन्स के बीच दीर्घकालिक व्यापार की सम्भावनाओं को देखते हुए यह एक सुनहरा अवसर था। 


डॉ डी के गुप्ता ने बताया, भारत में मेडिकल टूरिज़म हर वर्ष २५ % की दर से आगे बढ़ कर सालाना १० बिलियन डॉलर का राजस्व बढ़ोतरी कर रहा है। दूसरे देशों से आने वाले अधिकतर मरीज़ों में न्यूरोसर्जरी , रीढ़ की हड्डी के मरीज़ , ह्रदय सम्बंधी सर्जरी , पेट की सर्जरी और कैंसर के मरीज़ों की संख्या अधिक होती है।आज निश्चित रूप से भारत विदेशी मरीज़ों के बीच न केवल उनके इलाज बल्कि उनके घूमने की पसंदीदा जगह भी बन चुका है। 


उन्होंने फिलीपींस सरकार को यूनिवर्सल हेल्थ कवरेज कार्यक्रम को अपने देश मे सम्मिलित करने मे सहायता करने का प्रस्ताव भी दिया। डॉ। गुप्ता ने विश्व की सबसे बड़ी सरकारी स्वास्थ्य बीमा योजना- PMJAY (आयुष्मान) के बारे में भी विस्तार से बताया और बताया कि हम अपने पहले चरण में फिलीपींस की आबादी के 5 गुना से अधिक लोगों को यह कवरेज प्रदान कर रहे हैं। इसके अलावा ये प्रतिनिधिमंडल,भारत से फिलापीन्स को निर्यात करने के लिए चावल,सूचना प्रोधौगिकी , डिजिटल तकनीक और फ़ार्मास्यूटिकल्स का क्षेत्र बेहद अहम रहा । फेलिक्स हॉस्पिटल,  मनीला बिजनेस समिट की सफलता से गौरांवित हैं।