नोएडा एसटीएफ यूनिट और प्रतापगढ़ पुलिस के साथ मुठभेड़ में एक बदमाश मारा गया

नोएडा। यूपी एसटीफ की नोएडा यूनिट और प्रतापगढ़  पुलिस के साथ कल शाम बदमाशों से मुठभेड़ हुई जिसमें  पुलिस की गोली लगने से एक बदमाश की मौत हो गई।



 यूपी एसटीफ की नोएडा यूनिट और प्रतापगढ़  पुलिस की थाना रानीगंज क्षेत्र प्रतापगढ़ अंतर्गत बदमाशों से मुठभेड़ हुई है जिसमें बदमाशों ने पुलिस टीम पर अंधाधुँध फ़ाइरिंग शुरू कर दी। टीम द्वारा आत्मरक्षा  में किए गए फ़ायर में एक बदमाश को गोली लगी जिसे अस्पताल ले जाया गया जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया।
 मृतक बदमाश की पहचान बबलू पतला साजिद पुत्र भूरा निवासी कसाई टोला थाना कोतवाली कन्नौज के रूप में हुई है जो  वर्ष 2003 में थाना कोतवाली प्रतापगढ़ के लोमहर्षक डकैती की घटना में वांछित था। जिसमें डकैती डालते समय परिवार के तीन लोगों की हत्या कर दी थी। इस मुक़दमे में वर्ष 2007 में माननीय अदालत ने 3 सहअपराधियों को फाँसी की सजा सुनाई थी। इसी मुक़दमे में प्रतापगढ़ से 50,000 का इनाम घोषित हो रखा था।इसके अतिरिक्त कानपुरनगर  के थाना कल्याणपुर और थाना बिधनु के दो डकैती के साथ हत्या के मुक़दमो में,सहारनपुर से पुलिस कस्टडी से फ़रार होने के केस  में  और थाना सरधना मेरठ के डकैती के साथ हत्या के केस सहित 5 केसेज़ में वांछित चल रहा था।बबलू पतला छैमार घुमंतू जनजाती का है और गैंग बनाकर डकैती की घटना को पूरे उत्तर प्रदेश में घूमघूमकर  अंजाम देता था। बबलू पर डकैती और डकैती के साथ कई जघन्य हत्यायो के 15 से अधिक मुक़दमे दर्ज है। इस मुठभेड़ में एसटीफ के 2 लोग भी घायल हो गए है जिन्हें उपचार के लिए अस्पताल भेजा गया है।
इसके पास से एक फ़ैक्टरी मेड बंदूक़, एक पिस्टल, एक तमंचा सहित भारी मात्रा  कारतूस मिले है।