अच्छी पहल : देव के पास पातालगंगा में प्रस्तावित मेडिकल कॉलेज के लिए बिना शर्त भूमि डीएम को सौंपा, देव क्षेत्र का होगा चौतरफा विकास

देव (औरंगाबाद )।  जिले में भारत सरकार द्वारा प्रस्तावित मेडिकल कॉलेज के लिये ऐतिहासिक एवं धार्मिक नगरी देव के पतालगंगा मठ के न्यासियों द्वारा आवश्यक भूमि बिना शर्त उपलब्ध कराने का शपथ पत्र एवं घोषणा पत्र जिलापदाधिकारी औरंगाबाद राहुल रंजन महिवाल  को सौंपा। इससे देव के पास पातालगंगा में  प्रस्तावित मेडिकल कॉलेज बनने का सस्ता साफ हो गया है। यदि कोई अड़ंगा नहीं लगा तो मेडिकल कॉलेज के बनने से यहां की तस्वीर ही बदल जाएगी। डीएम को पत्र देने के दौरान बीजेपी जिला प्रवक्ता आलोक सिंह , माले नेता योगेंद्र राम, पूर्व प्रमुख सुरेंद्र चौरसिया सहित अन्य लोग उपस्थित थे।



उल्लेखनीय है कि मेडिकल कॉलेज के लिये नीति आयोग द्वारा औरंगाबाद जिले को चिन्हित किया गया है । देव में नीति आयोग के निर्देशों के आलोक में सुधीर कुमार अपर समाहर्ता औरंगाबाद , प्रदीप कुमार अनुमंडल पदाधिकारी औरंगाबाद , अरुण कुमार अंचलाधिकारी देव ने संयुक्त रूप से जमीन का निरीक्षण किया था और अंचलाधिकारी देव को जमीन की मापी करवा कर नक्से नजरिये के साथ प्रतिवेदन मांग किया गया था । अंचल कार्यालय के द्वारा प्रतिवेदित जमीन को मेडिकल कॉलेज के निर्माण के लिये बिना शर्त दान देने का शपथ पत्र पातालगंगा मठ के न्यासियों ने आज जिलापदाधिकारी औरंगाबाद को सौंप दिया ।


मठ के न्यासी योगेंद्र यादव मुखिया सह पैक्स अध्यक्ष बेड़नी पंचायत , रमेश कुमार सिंह , बाँके बिहारी सिंह , राजेन्द्र यादव , बिगन भुइँया , उमेश कुमार गुप्ता ने शपथ पत्र पर हस्ताक्षर बनाया है। सोमवार को शपथ पत्र सौपते हुये उत्तर कोयल नहर संघर्ष समिति के संयोजक मनोज कुमार सिंह , भाजपा जिलाप्रवक्ता आलोक कुमार सिंह , योगेंद्र राम , पूर्व प्रमुख सुरेंद्र चौरसिया , भूपेश यादव , राजेन्द्र प्रसाद गुप्ता , सुनील प्रताप मुन्ना , पूर्व मुखिया नंदकिशोर मेहता , नंदलाल मेहता , राजदेव पाल , मो. एकबाल अहमद उपस्थित थे । देव जैसे अतिपिछड़े क्षेत्र में मेडिकल कॉलेज बनने से वाराणसी के तर्ज पर देव का समुचित विकास संभव हो पायेगा ।


ज्ञात हो कि प्रस्तावित भूमि अम्बा – गया भाया देव स्टेट हाइवे पथ संख्या 101 पर अवस्थित है । साथ ही प्रस्तावित रिंग रोड के दायरे में अवस्थित है जहां जिले मुख्यालय के साथ ही अम्बा , नवीनगर , झारखंड के जपला , हुसैनाबाद , रफीगंज , मदनपुर , के साथ ही झारखंड के डाल्टेनगंज हरिहरगंज , छतरपुर के लोगो को सुगम सुविधा उपलब्ध हो पायेगा । प्रायः सभी जगह देव से सीधे संपर्क पथ से जुड़े हैं।