देव में 33 करोड़ की लागत से बनेगा रिंग रोड़

33 करोड़ की लागत से देव में बनेगा रिंग रोड, मंजूरी के साथ राशि स्वीकृत
********************************************
बिहार के औरंगाबाद जिले के सुविख्यात सूर्यमंदिर और सूर्यकुंड तालाब की प्राचीनता जगजाहिर है। यहां चैत्र मास और कार्तिक मास के शुक्लपक्ष षष्ठी और सप्तमी को छठपर्व का बड़ा मेला लगता है। देव में मार्ग काफी संकीर्ण है, जिससे छठपर्व पर भीड़ और भगदड़ से कई जान चली जाती है। इस साल कार्तिक छठ में भी बड़ा हादसा हुआ। बताया गया है कि इस साल छठपर्व पर तकरीबन 15 लाख लोग जुटे। चैत्र मास में गर्मी की वजह से मेले का फैलाव बढ़ जाता है, किंतु कार्तिक मास में देव के चारों ओर धान की फसल होने से मेले का जगह छोटा हो जाता है, और भीड़ बढ़ जाती है।
देव में छठपर्व की व्यापकता को देखते हुए देव में बाहरी रिंग रोड़ की जरूरत महसूस की जा रही थी, ताकि छठ व्रती चारों ओर से सूर्यस्थल और सूर्यकुंड तालाब पर पहुंच सकें, और छठ व्रतियों को दिक्कत का सामना करना न पड़े। जिलाधिकारी औरंगाबाद ने इस बाबत पहल की है और में देव में 33 करोड़ की लागत से रिंग रोड़ का निर्माण होगा। राशि की भी स्वीकृति मिल चुकी है। इससे देव की सौंदर्यता तो बढ़ेगी ही, साथ ही देव का फैलाव भी बड़ा हो जाएगा।