नोटबन्दी के 3 साल पूरे होने पर विचारगोष्ठी का आयोजन

नोएडा।  प्रदेश युवा व्यापार मंडल द्वारा आज नोएडा के सेक्टर 51 होशियारपुर में नोटबंदी के 3 वर्ष पूर्ण होने पर एक विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया। आज से ठीक 3 वर्ष पहले रात्रि 8:00 बजे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 500 और 1000 के जो नोट बंद किए थे उसके क्या फायदे हुए और क्या नुकसान हुए इस बारे में विस्तार से चर्चा की गई।



उत्तर प्रदेश युवा व्यापार मंडल के प्रदेश अध्यक्ष विकास जैन ने कहा जब नोट बंदी हुई थी तो देश में हाहाकार मच गया था। आपातकाल जैसी स्थिति हो गई थी। एक- एक रुपए के लोग मोहताज हो गए थे। धीरे-धीरे जब नई करेंसी बाजार में आई तब जाकर बाजार की स्थिति  सामान्य हुई ।श्री जैन ने आगे कहा नोटबंदी के बाद बाजार से नकली नोट ज्यादातर खत्म हो गई जिससे देश की अर्थव्यवस्था मजबूत हुई।


उत्तर प्रदेश युवा व्यापार मंडल के प्रदेश चेयरमैन नवनीत गुप्ता ने कहा कि नोटबंदी के बाद देश में महंगाई दर बहुत बढ़ गई है। खाने- पीने की चीजें, पेट्रोल के दाम सहित अनेक वस्तुओं के दाम बढ़ गए हैं जिससे आम आदमियों का जीना मुश्किल हो गया है।


मंडल के जिला अध्यक्ष  रघु अग्रवाल ने कहा कि नोटबंदी देश के लिए एक बहुत बड़ी आपदा थी जिससे धीरे-धीरे देश उबर रहा है। इतने बड़े फैसले लेने के लिए कुछ और वक्त जनता को देना चाहिए था, जो सरकार देने में नाकामयाब रही। अग्रवाल ने कहा कि नोटबंदी के समय जिन जिन लोगों की एटीएम लाइन में  लगकर मौत हुई थी, सरकार को उनके परिवार को मुआवजा देना चाहिए और उचित मुआवजा देना चाहिए, क्योंकि वह आम जनता की गलती नहीं थी, वह सरकार की द्वारा की गई गलती थी।


आज के विचार गोष्ठी में मुख्य रूप से  व्यापारी  योगी जी, ऋषभ जैन, दीपक गर्ग, भारत बंसल, हिमांशु मित्तल व अनेक व्यापारी सम्मिलित हुए।