रिंग रोड़ के निर्माण से देव के इर्द-गिर्द भी लगेंगे विकास के पंख


रिंगरोड के निर्माण से देव में लगेंगे विकास के पंख, होगी छठव्रतियों व तीर्थयात्रियों को सुविधा
👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌


 जिलाधिकारी औरंगाबाद द्वारा देव में रिंग रोड़ के निर्माण की घोषणा से लोगों में खुशी का माहौल है। बहरहाल, रिंग रोड़ पर पर्याप्त सुविधा की व्यवस्था की जानी चाहिए। इस रोड़ के मास्टर प्लान के साथ ही भूमाफियाओं की नज़र इसके- इर्द- गिर्द की जमीनों पर टिकी हुई है। खरीद-फरोख्त के लिए दलालों की लाबी तैयार हो रही है। इससे जिला प्रशासन को सतर्क रहने की जरूरत है, अन्यथा वह जमीन भूमाफियाओं के कब्जे में चले जाएंगे।


बताया गया है कि रिंग रोड का निर्माण आरसीपीएलडब्लूई के तहत कराया जाएगा। साथ ही ड्रेनेज और कल्वर्ट भी बनाया जाएगा । पूर्व घोषणा के अनुसार यहां कुल 15 सड़कों का निर्माण इस रिंग रोड योजना के तहत होना है,  जिससे देव प्रखंड मुख्यालय सभी दिशाओं में सड़क मार्ग से जुड़ जाएगा जो करीब 10 किलोमीटर होगी।
 रिंग रोड़ की स्वीकृति मिलने के साथ ही इन जगहों पर विकास का बहार आ जाएगा। ये जगह हैं,  कुम्हार बीघा मोड़ से कुम्हार बीघा तक, कुम्हार बीघा से बाला पोखर स्कूल तक, बाला पोखर स्कूल से हरिकीर्तन बीघा मोड़ तक, हरि कीर्तन बीघा मोड़ से राजा बांध तक, राजा बांध से सुदी बीघा मोड़ तक, सुदी बीघा मोड़ से गोदाम तक, गोदाम से स्टेट हाईवे 101 तक, स्टेट हाईवे 101 से पातालगंगा गेट तक, पातालगंगा गेट से तालाब तक, पातालगंगा तालाब से कच्ची पथ तक, नरची पथ से नरची गेट तक, नरची गेट से देव बहुआरा पथ, देव बहुआरा पथ से देव बलसारा पथ तक, देव बलसारा पथ में महिला संसाधन केंद्र से गोदाम तक, देव-बलसारा पथ में गोदाम से देव मोड़ से देव पथ तक निर्माण होगा।