भाई ही निकला भाई का हत्यारा, रबूपुरा पुलिस ने किया खुलासा

 नोएडा। थाना रबूपुरा पुलिस ने आज 10 दिसम्बर 2019 को हुई हत्या का खुलासा कर दो हत्यारे अभियुक्तों ब्रहमपाल पुत्र खिच्चू सिंह निवासी मौहल्ला मैना ठाकुरान कस्बा रबूपुरा जिला गौतमबुद्धनगर, मुनेश पुत्र सुरेश निवासी बिजलीपुर नेमताबाद थाना खुर्जा देहात बुलन्दशहर को झाझर चौकी जनपद बुलन्दशहर के पास से गिरफ्तार कर लिया है।



इस सम्बन्ध में थाना रबूपुरा पर मुकदमा अपराध संख्या 430/19 धारा 302 भादवि के तहत पंजीकृत है। पुलिस क्षेत्राधिकारी जेवर शरद चन्द्र शर्मा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में जानकारी देते हुए बताया कि 10 दिसम्बर 2019 को नौरंग पुत्र वीरपाल सिंह निवासी मौहल्ला मैना ठाकुरान कस्बा रबूपुरा जिला गौतमबुद्धनगर ने थाना रबूपुरा पर सूचना दी थी कि मेरे ताऊ तिलक सिंह पुत्र खिच्चू सिंह उम्र 60 वर्ष ने आत्महत्या कर ली है। इस सूचना पर मृतक तिलक सिंह का पंचायतनामा की कार्यवाही करायी गयी।11 दिसम्बर 2019 को मैनपाल सिंह पुत्र खिच्चू सिंह निवासी रबूपुरा गौतमबुद्धनगर ने थाना आकर तहरीर दी कि मेरे भाई तिलक सिंह (मृतक) पुत्र खिच्चू सिंह की हत्या किसी अज्ञात व्यक्ति ने कर दी है। वादी मैनपाल की तहरीर पर 11 दिसम्बर 2019 को मुकदमा अपराध संख्या 430/19 धारा 302 भादवि बनाम अज्ञात पंजीकृत किया गया।


पुलिस ने रिपोर्ट के अवलोकन व विवेचना/सर्विलांस की मदद से हत्या का खुलासा करते हुये पाया कि मृतक तिलक सिंह के कोई संतान नही थी। मृतक तिलक सिंह करीब 10 वर्ष से अपने छोटे भाई ब्रहमपाल के पास रहता था और उसकी देखभाल करता था। मृतक चार भाई थे। मृतक सबसे बडा था। मृतक से छोटा मैनपाल सिंह उससे छोटा वीरपाल व सबसे छोटा ब्रहमपाल था। चारों भाईयो पर करीब दो – दो बीघा पैतृक जमीन है। मृतक के नाम कस्बा रबूपुरा मे एक प्लाट था। अभियुक्त ब्रहमपाल ने अपने भाई से यह प्लाट व जमीन अपने नाम कराने की बात कही थी। इस पर मृतक द्वारा मना कर दिया था। दोनो भाईयो में इस बात को लेकर कहा सुनी हुई थी। इस बात से नाराज होकर मृतक करीब एक माह पहले अपने दूसरे भाई मैनपाल सिंह के पास जाकर रहने लगा। अभियुक्त ब्रहमपाल को यह शक हो गया कि मेरा भाई मृतक तिलक सिंह अपने नाम की जमीन व प्लाट कही बडे भाई मैनपाल के नाम ना कर दे।


उन्होंने बताया कि अभियुक्त ब्रहमपाल ने हत्या से करीब 15-20 दिन पहले अपने साले मुनेश पुत्र सुरेश निवासी बिजलीपुर नेमताबाद थाना खुर्जा देहात बुलन्दशहर को बुलाया और मृतक तिलक सिंह को मारने की योजना तैयार कर ली और योजना के अनुसार 8 दिसम्बर 2019 की रात्रि मे अभियुक्तगण को पता था कि अभियुक्त ब्रहमपाल के भाई मैनपाल उर्फ नेमपाल सिंह की साली की शादी खुर्जा बुलन्दशहर मे होनी थी। इसी योजना के तहत अभियुक्त ब्रहमपाल व ब्रहमपाल के साले मुनेश ने मृतक तिलक सिंह को शराब पिलाई और अभियुक्त मुनेश ने मृतक तिलक सिंह को पूर्ण नशा होने पर उसके मुँह नाक को हाथो से दबाया तथा ब्रहमपाल ने उसके पैरों को पकडा और हत्या कर दी थी बाद में गम्छे को बाँधकर खिचा था। ताकि लोगों को विश्वास हो सके कि तिलक सिंह ने आत्महत्या की है। उसके बाद मौहल्ले के प्रेम सिंह के लडके की शादी अभियुक्त ब्रहमपाल के भाई मैनपाल उर्फ नेमपाल सिंह की साली की शादी मे खुर्जा बुलन्दशहर चले गये थे ताकि किसी को शक न हो और लोगों को लगे की तिलक सिंह ने आत्महत्या की है।


Popular posts
इंडियन पेरोक्साइड लि. ने कोरोना ड्राइव हेतु नोएडा को उपलब्ध कराया हाइड्रोजन पेरोक्साइड, यूपी के अन्य जिलों को भी निःशुल्क मिलेगा दान
Image
" जुग सहस्त्र जोजन पर भानु " हनुमान चालीसा के इस पंक्ति में है धरती से सूर्य की दूरी
Image
जारचा के छोलस में बच्चों के क्रिकेट खेलने को लेकर हुए झगड़े में 4 लोगों की हुई गिरफ्तारी
Image
नोएडा के दीपाक्षी अस्पताल के गेट पर शव को रखने पर हुआ एफआईआर, जांच के लिए उच्च स्तरीय टीम गठित
Image
स्वामी विवेकानंद ग्रामीण विकास सहयोग संस्था झुग्गी- झोपड़ी के मुद्दे को लेकर 27 फरवरी को प्राधिकरण पर होनेवाली धरने का दिया समर्थन
Image