हैदराबाद गैंगरेप के चारों आरोपी पुलिस मुठभेड़ में मारे गए ,सोशल मीडिया पर इस मुठभेड़ पर अलग-अलग प्रतिक्रिया


नई दिल्ली। बुरे का बुरा नतीजा। आखिरकार हैदराबाद गैंगरेप के चारों आरोपियों को पुलिस ने मुठभेड़ में मार गिराया है. यह एनकाउंटर नेशनल हाइवे-44 के पास गुरुवार देर रात हुआ.


जानकारी के अनुसार, पुलिस आरोपियों को एनएच-44 पर क्राइम सीन रिक्रिएट कराने के लिए लेकर गई थी. पुलिस के मुताबिक चारों आरोपियों ने मौके से भागने की कोशिश की. पुलिस ने चारों आरोपियों को ढेर कर दिया है. हालांकि इस मुठभेड़ को लेकर सोशल मीडिया पर सवाल भी दागे जा रहे हैं।



उल्लेखनीय है कि 27-28 नवंबर की  रात को हैदराबाद में महिला डॉक्टर के साथ हैवानियत की वारदात को अंजाम दिया गया था. महिला डॉक्टर का जला शव बेंगलुरु हैदराबाद राष्ट्रीय राजमार्ग पर अंडरपास के करीब मिला था. इसके बाद पुलिस ने चारों आरोपियों को 29 नवंबर को गिरफ्तार किया था.


पुलिस ने इस मामले में चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था. पुलिस ने आरोपियों को कोर्ट में पेश किया था, जहां से उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया. जिसके बाद हैदराबाद पुलिस ने हिरासत की मांग की तो आरोपियों को 7 दिन की पुलिस कस्टडी में भेज दिया गया था. पुलिस आरोपियों को सीन रिक्रिएट कराने के लिए लेकर गई थी. इस दौरान पुलिस मुठभेड़ में चारों आरोपी मारे गए.


उधर , इस एनकाउंटर पर दिशा के पिता हैदराबाद की महिला डॉक्टर (दिशा) के पिता ने कहा कि मेरी बेटी की मौत के 10 दिन के अंदर आरोपियों को मार दिया गया. मैं तेलंगाना सरकार, पुलिस और मेरे साथ खड़े लोगों को बधाई देता हूं. मेरी बच्ची की आत्मा को शांति मिल गई.