हेमंत सोरेन ने माता-पिता का आशीर्वाद लेकर झारखंड के 11 वें मुख्यमंत्री पद की शपथ ली

रांची : झामुमो नेता हेमंत सोरेन ने रविवार को राजधानी रांची के मोरहाबादी मैदान में झारखंड के 11वें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली. उन्हें प्रदेश की राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने शपथ दिलायी. शपथ ग्रहण समारो‍ह के दौरान हेमंत सोरेन की पत्नी कल्पना सोरेन के साथ पिता शिबू सोरेन और माता रूपी सोरेन भी मंच पर मौजूद रहे.



शपथ ग्रहण समारोह के लिए रांची के मोरहाबादी मैदान को सजाया गया. झारखंड के 11वें मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के शपथ ग्रहण समारोह में झारखंडी संस्‍कृति पर जोर दिया गया. समारोह के मंच की बात करें तो यहां झारखंड की कोहबर कला के साथ ही झारखंडी कला संस्कृति को भी प्रमुखता से प्रदर्शित किया गया.
हेमंत सोरेन के साथ ही कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष और लोहरदगा विधायक रामेश्वर उरांव, पाकुड़ से कांग्रेस विधायक आलमगीर आलम और चतरा से राजद विधायक सत्यानंद भोक्ता मंत्री ने मंत्री पद की शपथ ली है. इससे पहले शपथ लेने के लिए करीब 1:30 बजे हेमंत अपनी पत्‍नी कल्‍पना सोरेन के साथ घर से निकले और पिता शिबू सोरेन का आशीर्वाद लिया. हेमंत इस दौरान खुद ही अपनी गाड़ी ड्राइव करते नजर आये. माता-पिता का आशीर्वाद लेकर वे समारोह स्थल पहुंचे और मुख्‍यमंत्री पद की शपथ ली.खबरों की मानें तो खरमास के बाद अब हेमंत मंत्रिमंडल का विस्तार होगा, जिसमें सभी नामों पर फैसला किया जाएगा.
पिता शिबू सोरेन का आशीर्वाद लेकर हेमंत सोरेन मंच पर पहुंचे. मंच पर राजद नेता तेजस्वी यादव, आप सांसद संजय सिंह, बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी,कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गांधी, राजस्‍थान के मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत, शरद यादव, डी राजा मौजूद थे. हेमंत के पिता शिबू सोरेन और माता रूपी सोरेन भी मंच पर दिखे. हेमंत मंच पर सभी आगंतुकों से बारी-बारी मुलाकात की और उनका स्वागत किया.



झारखंड के नये मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के शपथ ग्रहण में शामिल होने वाले मुख्यमंत्रियों में सिर्फ राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी थीं. कांग्रेस नेता और पार्टी के पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गांधी के साथ ही भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के महासचिव डी राजा और मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के महासचिव सीताराम येचुरी भी समारोह में शामिल हुए. बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम माझी, पूर्व केन्द्रीय मंत्री तारीक अनवर के साथ अब भाकपा के महासचिव डी राजा, माकपा महासचिव सीताराम येचुरी भी शपथ ग्रहण के दौरान नजर आये. इनके अलावा भाकपा के राष्ट्रीय सचिव अतुल अंजान, राजद के तेजस्वी यादव, कांग्रेस नेता आरपीएन सिंह, अब्दुलबारी सिद्दिकी भी कार्यक्रम में शामिल होने के लिए रांची पहुंचे थे.

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के शपथग्रहण समारोह में विभिन्न दलों के कई बड़े नामों के शामिल होने का झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) का दावा सही प्रतीत होता नजर नहीं आया. पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रमुख शरद पवार, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल रांची नहीं पहुंचे. जहां प्रणब मुखर्जी ने खराब स्वास्थ्‍य का हवाला दिया वहीं केजरीवाल को संदेश लेकर सांसद संजय सिंह शपथ ग्रहण समारोह में पहुंचे. समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष एवं उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और बसपा सुप्रीमो मायावती भी इस समारोह में शामिल नहीं हुए.
यहां आपको बता दें कि विधानसभा चुनाव में जेएमएम, कांग्रेस और आरजेडी के गठबंधन ने 81 सीटों वाली विधानसभा में 47 सीटों पर जीत दर्ज की है. जिसमें जेएमएम को 30, कांग्रेस को 16 और आरजेडी को 1 सीट पर जीत हासिल हुई. वहीं . जेवीएम के 3, एनसीपी और सीपीआई एमएल के 1-1 विधायकों ने जीत हासिल की. इन्होंने गठबंधन को ही अपना समर्थन दिया.

Popular posts
इंडियन पेरोक्साइड लि. ने कोरोना ड्राइव हेतु नोएडा को उपलब्ध कराया हाइड्रोजन पेरोक्साइड, यूपी के अन्य जिलों को भी निःशुल्क मिलेगा दान
Image
" जुग सहस्त्र जोजन पर भानु " हनुमान चालीसा के इस पंक्ति में है धरती से सूर्य की दूरी
Image
जारचा के छोलस में बच्चों के क्रिकेट खेलने को लेकर हुए झगड़े में 4 लोगों की हुई गिरफ्तारी
Image
नोएडा के दीपाक्षी अस्पताल के गेट पर शव को रखने पर हुआ एफआईआर, जांच के लिए उच्च स्तरीय टीम गठित
Image
स्वामी विवेकानंद ग्रामीण विकास सहयोग संस्था झुग्गी- झोपड़ी के मुद्दे को लेकर 27 फरवरी को प्राधिकरण पर होनेवाली धरने का दिया समर्थन
Image