प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया : किसी भी पत्रकार के ख़िलाफ़ कोई भी फर्जी मुकदमा दर्ज न हो, वर्ना होगी कड़ी कार्रवाई

**  पत्रकारों के लिए एक राहत भरी खबर


नई दिल्ली। प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया ने  सरकार को निर्देशित कर कहा है कि किसी भी पत्रकार पर कोई भी फर्जी मुकदमा दर्ज नहीं किया जाए।



ऐसे तो देश में नागरिकता बिल को लेकर हो रहे विरोध प्रदर्शनों ने पूरे देश को  मायूसी ही हासिल हो रही है, लेकिन पत्रकारों के लिए एक बहुत बड़ी खबर यह आई है।


प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया ने सरकार को निर्देशित किया है कि किसी भी पत्रकार पर कोई भी फर्जी मुकदमा दर्ज नहीं किया जाए और अगर ऐसा करती है तो मुकदमा दर्ज करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए।



आपको याद होगा कि अगस्त में मिड डे मील में नमक के साथ रोटी खिलाने की एक खबर चली थी जिसमें पत्रकार प्रकाश जायसवाल ने यह खबर प्रमुखता से दिखाई थी और उसी खबर पर उस वक्त आक्रोशित होकर पत्रकार के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था। उसी पर पीसीआई ने प्रयागराज में सुनवाई की और सुनवाई करते हुए आदेश पारित किया। इनके खिलाफ मुकदमा दर्ज करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए और भविष्य में किसी भी पत्रकार के खिलाफ कोई मुकदमा इस तरह का दर्ज नहीं होना चाहिए। जो पत्रकार सितम के खिलाफ आवाज उठाता है, अगर आप उसको षड्यंत्र के तहत मुकदमा दर्ज करेंगे तो फिर कौन पत्रकारिता करेगा? 
जस्टिस चंद्र मौली का यह निर्णय भविष्य में नजीर बनेगा।


Popular posts
इंडियन पेरोक्साइड लि. ने कोरोना ड्राइव हेतु नोएडा को उपलब्ध कराया हाइड्रोजन पेरोक्साइड, यूपी के अन्य जिलों को भी निःशुल्क मिलेगा दान
Image
" जुग सहस्त्र जोजन पर भानु " हनुमान चालीसा के इस पंक्ति में है धरती से सूर्य की दूरी
Image
समाज के पिछड़ों के महानायक और सर्वमान्य नेता थे बाबू शिवदयाल सिंह चौरसिया
Image
स्वामी विवेकानंद ग्रामीण विकास सहयोग संस्था झुग्गी- झोपड़ी के मुद्दे को लेकर 27 फरवरी को प्राधिकरण पर होनेवाली धरने का दिया समर्थन
Image
जय देव कृत दशावतार स्तुति के पाठ से मिलती है चिन्ताओं से मुक्ति
Image