वेंडर जोन किराया नीति को लेकर प्राधिकरण पर पथ विक्रेताओं का धरना चौथे दिन भी रहा जारी


नोएडा। वेन्डर जोन किराया नीति व पथ विक्रेताओं के उत्पीड़न के खिलाफ पथ विक्रेताओं के मुद्दों/मांगों को लेकर सीटू जिला अध्यक्ष व पथ विक्रेता कर्मकार यूनियन के महामंत्री गंगेश्वर दत्त शर्मा के नेतृत्व में नोएडा प्राधिकरण कार्यालय सैक्टर-6 नौएडा पर चल रहा धरना शुक्रवार 13 दिसम्बर, 2019 को चौथे दिन भी जोश-खरोश के साथ जारी रहा। खराब मौसम होने के बावजूद भी बड़ी संख्या में रेहड़ी-पटरी दुकानदारों जिसमें महिला दुकानदारों ने बढ़चढ़कर हिस्सा लिया।


धरना प्रदर्शन के मुख्य वक्ता के रूप में सम्बोधित करते हुए सीटू दिल्ली एनसीआर राज्य सचिव सिद्वेश्नर शुक्ला ने कहा कि प्राधिकरण रेहड़ी रेहड़ी-पटरी दुकानदारों को वेलफेयर के तहत सुविधाएं देने के बजाए बिजनेस करना चाहता है। घोषित किराया नीति यही दर्शाती है। उन्होंने कानून व संविधान का उल्लंघन करने के लिए आडे़ हाथो लिया साथ ही उन्होंने केन्द्र व प्रदेश की मजदूर विरोधी जन-विरोधी नीतियों को रेखांकित करते हुए सरकार की कड़ी निन्दा किया।



धरना प्रदर्शन को ''सामाजिक कार्यकर्ता' चरन सिंह राजपूत, उपदेश श्रीवास्तव, विक्रम सेठी, उर्मिला चैधरी, रणपाल अवाना एडवोकेट, माकपा जिला सचिव मदन प्रसाद, समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता देवेन्द्र अवाना व हीरा लाल यादव, अन्तर्राष्ट्रीय मानवाधिकार संगठन की जिलाध्यक्ष कंचन वाला ने सम्बोधित करते हुए आन्दोलन का समर्थन और सहयोग का ऐलान किया।


धरना प्रदर्शन को नगर पथ विक्रय समिति के सदस्य अरूण यादव, महेन्द्र रावत, गणेश कुमार, बटेश्वर मिश्रा, पूनम वर्मा, अर्पणा शर्मा, रेहड़ी पटरी के वरिष्ठ नेता रविन्द्र कुमार शाह, गंगेश्वर दत्त शर्मा, भरत डेन्जर, रामदीन, ओम नारायण, रामगोपाल, सुखदेव सिंह, राजू मास्टर, ब्रह्मानन्द, सीमा देवी, मनोज कुमार शाह आदि ने सम्बोधित किया।
आन्दोलन आगे भी जारी रहेगा और सोमवार 16 दिसम्बर 2019 को प्रातः 10.00 बजे से फिर भारी संख्या में नोएडा अथोरिटी पर लोग इकट्ठा होंगे।