ऑल इंडिया टेलीकॉम रिटेलर एसोसिएशन ने दिल्ली के रामलीला मैदान में ऑनलाइन मार्केटिंग के खिलाफ किया प्रदर्शन

नई दिल्ली। आज ऑल इंडिया  टेलीकॉम रिटेलर एसोसिएशन ने दिल्ली के रामलीला मैदान में देश भर से बड़ी संख्या में उपस्थित होकर ऑनलाईन मार्केटिंग के खिलाफ हल्ला बोला और ऑनलाइन मार्केटिंग को बंद करने की मांग की। वक्ताओं ने साफ शब्दों में कहा कि ऑनलाईन कंपनियों द्वारा सस्ते दामों में माल बेचे जाने से खुदरा व्यापार बर्बादी के कगार पर है। सरकार आंखे खोले और खुदरा व्यापारियों को इससे बचाए।
इस मौके पर गाजियाबाद से बाल किशन गुप्ता के नेतृत्व में बड़ी संख्या में मोबाईल व्यापारी दिल्ली के रामलीला मैदान पहुंचे।



उल्लेखनीय है कि स्मार्टफोन इंडस्ट्री में आज ऑनलाइन शॉपिंग का क्रेज लगातार बढ़ता जा रहा है, क्योंकि यहां मिलने वाले ऑफर्स और कम कीमत यूजर्स को अपनी ओर आकर्षित कर रहे हैं। ऐसे में स्मार्टफोन की ऑफलाइन मार्केट के प्रति यूजर्स का लगाव कम हो गया है। सस्ते से सस्ता और महंगे से महंगा फोन खरीदने के​ लिए लोग अक्सर ऑनलाइन शॉपिंग साइट्स का उपयोग करते हैं। ऑनलाइन मार्केट के प्रति लोगों के बढ़े क्रेज के कारण कहीं न कहीं ऑफलाइन रिटेलर्स का वजूद खोने लगा है और अब वह इसी वजूद को बचाने की कोशिश कर रहे है।


 मोबाइल प्रोडक्ट ऑनलाइन एक्सक्लूसिव न रहें, इसके लिए आज ऑल इंडिया मोबाईल रिटेलर एसोसिएशन ने प्रदर्शन किया।


 एसोसिएशन के वक्ताओं ने कहा  कि ऑनलाइन और ऑफलाइन प्लेटफॉर्म पर मोबाइल समान कीमत और समान ऑफर पर उपलब्ध हों। साथ ही कोई भी मोबाइल ऑललाइन स्टोर्स पर उपलब्ध ना हो।
क्योंकि मोबाइल खरीददारी के लिए ऑनलाइन प्लेटफॉर्म की बढ़ती लोकप्रियता और डिमांड के कारण ऑफलाइन रिटेलर्स को बिजनेस में काफी नुकसान हो रहा है। आज देश भर में  मोबाइल स्टोर बंद भी रहे। 


वैसे आजकर अधिकतर स्मार्टफोन्स ऑनलाइन स्टोर्स पर एक्सक्लूसिव उपलब्ध होते हैं और इसका असर ऑफलाइन रिटेलर्स पर पड़ता है। इसके अलावा ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर यूजर्स स्मार्टफोन्स को डिस्काउंट और कई आकर्षक ऑफर्स के साथ खरीद सकते हैं। साथ ही डेबिट और क्रेडिट कार्ड पर भी ​आकर्षक ​ऑफर्स दिए जाते हैं। ऐसे में यूजर्स ऑफलाइन की बजाय ऑनलाइन प्लेटफॉर्म से मोबाइल खरीदना पसंद करते हैं। इन सबकी वजह से ऑफलाइन रिटेलर्स को नुकसान हो रहा है। अब उनकी डिमांड है कि भारत में लॉन्च होने वाले स्मार्टफोन केवल ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर ही उपलब्ध न हो। साथ ही दोनों प्लेटफॉर्म पर यूजर्स को एक समान कीमत और ऑफर्स की सुविधा मिले।