धरनारत किसानों को गिरफ्तार किया जाना दुर्भाग्यपूर्णपूर्ण एवं असंवैधानिक : वीर सिंह

नोएडा। सेक्टर 6 स्थित नोएडा प्राधिकरण पर अपनी मांगों को लेकर शांतिपूर्ण धरना दे रहे किसानों को पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया जाना दुर्भाग्यपूर्ण एवं असंवैधानिक है। यह प्रतिक्रिया सपा के जिलाध्यक्ष बीर सिंह यादव ने किसानों की गिरफ्तारी पर दी।



उन्होंने किसानों की जबरन गिरफ्तारी को लोकतंत्र की हत्या बताया। पुलिस ने धरने में बैठी महिलाओं को भी गिरफ्तार कर लिया है जो कि बहुत ही निंदनीय है। सत्ता की तानाशाही को कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। समाजवादी पार्टी सड़क से लेकर संसद तक इस लड़ाई को लड़ेगी।


सपा जिला प्रवक्ता राघवेंद्र दुबे ने कहा कि सत्ता के इशारे पर किसानों की जबरन गिरफ्तारी यह बताती है कि भाजपा सरकार किसान हितैषी होने का केवल ढोंग करती है। जब किसान अपनी मांगों को लेकर अपनी आवाज बुलंद करने का काम करते हैं तो सरकार उनकी आवाज को दबाने के लिए उन्हें गिरफ्तार कर लेती है। किसानों की आबादी पर प्राधिकरण द्वारा गिरफ्तारी के बाद ध्वस्तीकरण का नोटिस चस्पा कर दिए गए हैं।किसानों को बिना शर्त रिहा किया जाए और उनकी मांगों का अविलंब समाधान किया जाए। किसानों पर की गई कार्यवाही का समाजवादी पार्टी पुरजोर विरोध करती है।