प्राधिकरण से किसानों की वार्ता विफल, धरना रहेगा जारी

नोएडा। नोएडा प्राधिकरण के दफ्तर के बाहर लगे बैरियर के पास किसानों की कई मांगों को लेकर धरना दे रहे किसानों की आज प्राधिकरण के सीईओ रितु महेश्वरी से वार्ता हुई , लेकिन कोई नतीजा नहीं निकला। 



किसान अपनी मांग पर अड़े हुए हैं। इसबार आर-पार की लड़ाई लड़ी जा रही है। किसानों की सबसे बड़ी मांगों में आबादी का निस्तारण है। किसान मांग कर रहे हैं कि हमारी जैसी आबादी है, उसे वैसे ही छोड़ा जाय। उसे प्राधिकरण अधिग्रहण न करे। 


उधर प्राधिकरण के कहना है कि किसानों ने प्राधिकरण के अधिग्रहण क्षेत्र जमीन को जबरन घेर कर प्राधिकरण के विकास कार्यों में बाधक बने हुए हैं। किसान आबादी क्षेत्र से बढ़कर बड़े-बड़े जमीन को घेर रखा है। प्राधिकरण का यह भी कहना है कि यदि वह जमीन छोड़ दे तो नोएडा का विकास अवरुद्ध हो जाएगा।


उधर, किसान अपनी जमीन अपना अधिकार की बात भी कह रहे हैं। बहरहाल, किसानों की आज वार्ता खत्म होने से धरना आगे भी जारी रहेगी।