नोएडा प्राधिकरण के सीईओ रितु महेश्वरी ने किया कई परियोजनाओं का शुभारंभ

नोएडा। आज नोएडा प्राधिकरण द्वारा और आरडब्ल्यूए के द्वारा सेक्टर 52 में 65 लाख की लागत से नोएडा के सबसे बड़े बायो मेथानाइजेशन प्लांट का शुभारंभ किया गया। इसके पश्चात  दो स्थानों पर सेक्टर 80 में एवं सेक्टर 119 में मटेरियल रिकवरी फैसिलिटी सेंटर (एमआरएफ सेंटर) का उद्घाटन किया गया।



 सेक्टर 80 में मेसर्स देवेश ट्रेडिंग कंपनी द्वारा मैट्रियल रिकवरी फैसिलिटी सेंटर 1 का संचालन किया जाएगा तथा सेक्टर 119 में मेसर्स वेस्ट मैनेजमेंट कॉरपोरेशन द्वारा मैटेरियल रिकवरी फैसिलिटी सेंटर का संचालन होगा। इनके द्वारा विभिन्न आवासीय/ औद्योगिक एवं अन्य संस्थानों से ठोस अपशिष्ट को एकत्रित कर मैट्रियल रिकवरी फैसिलिटी सेंटर पर लाया जाएगा। ड्राई वेस्ट मटेरियल रिकवरी प्लांट में वैज्ञानिक विधि से अलग -अलग करते हुए प्लास्टिक ग्लास मेटल इत्यादि सामग्री प्राप्त की जाएगी। इस विधि से अपशिष्ट के ड्राई वेस्ट की 80% सामग्री को रिसाइलिंग हेतु प्रेषित किया जाएगा जिससे रेमिडीएशन प्लांट पर अपशिष्ट की मात्रा में कमी आएगी। दोनों एमआरएफ सेंटर पर कुल 15 टन  अपशिष्ट प्रतिदिन उपचारित किया जाएगा। मैट्रियल रिकवरी फैसिलिटी परियोजना पर नोएडा प्राधिकरण द्वारा कोई राशि खर्च नहीं की गई है। यह राशि स्वयं संचालन करने वाली कंपनियों के अधीन है।