सेक्टर 70 में दिनदहाड़े बदमाशों ने एक व्यक्ति को गोली मारी, अस्पताल में कराया गया भर्ती




नोएडा। सेक्टर 70 में आज दो पहर बाद टिम्बर कारोबारी पर बीच सडक़ पर पल्सर सवार तीन बदमाशों ने ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। बदमाशों के फायरिंग करने पर वहां भगदड़ मच गई। कारोबारी को मरा समझकर बदमाश वहां से हथियार लहराते हुए भाग निकले। हालांकि भागते हुए बदमाश घटनास्थल के पास कई दुकानों के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गए।


सूचना मिलने पर थाना फेज थ्री पुलिस ने घायल कारोबारी को फेज थ्री स्थित कैलाश अस्पताल में भर्ती कराया है। जहां उसकी हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है। पुलिस जमीनी विवाद और कारोबारी रंजिश को लेकर मामले की जांच कर रही है।  
पुलिस के मुताबिक संजय मित्तल का सेक्टर 49 बरौला और ग्रेटर नोएडा के गामा इलाके में मकान है। दोनों जगह संजय ने टिम्बर और सैटरिंग सप्लाई का कार्यालय खोला हुआ है। सेक्टर 70 में संजय के भतीजे दिनेश मित्तल भी यही कारोबार करते हैं। कारोबारी अक्सर सेक्टर 70 स्थित स्टाइल मिरर नाम के सैलून पर सेविंग और कटिंग कराने आते रहते हैं।


आज करीब 5 बजे कारोबारी अपनी सेंट्रो कार से सेक्टर 70 सैलून की शॉप पर जा रहे थे। जैसे ही वे कार से उतरे वहां पहले से ही घात लगाए पल्सर बाइक सवार तीन बदमाशों ने उन पर पांच राउंड फायरिंग कर दी। तीन गोली उनके हाथ में लगी। कारोबारी को मरा समझकर तीन बदमाश तेज रफ्तार में बाइक दौड़ाते हुए वहां से भाग निकले। आस-पास के लोगों ने घटना की सूचना पुलिस को दी। कुछ देर बाद कारोबारी का भतीजा दिनेश भी वहां पहुंच गया।


पुलिस ने बताया कि पल्सर बाइक पर तीन बदमाश थे। आगे और पीछे बैठे बदमाश ने हेलमेट लगाया हुआ था। जबकि बीच में बैठे बदमाश ने हेलमेट नहीं लगाया हुआ था। तीनों बदमाश घटनास्थल आस-पास मौजूद दुकानों के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गए हैं। फुटेज तीनों बदमाश तेजी से बाइक दौड़ाते हुए दिखाई पड़ रहे हैं।

पुलिस ने शुरूआती जांच में बदमाशों के सुपारी किलर होने की आशंका जताई है। पुलिस को अंदेशा है कि बदमाशों को किसी ने कारोबारी को मारने के लिए सुपारी दी होगी। जिसके बाद बदमाशों ने पहले कई दिन तक कारोबारी की रेकी की। फिर वारदात को अंजाम दिया।
डीसीपी हरीश चन्दर का कहना है कि कारोबारी की हालत खतरे से बाहर है। कारोबारी के हाथ में तीन गोलियां लगी हैं। बदमाशों ने उन पर पांच राउंड फायरिंग की थी। कारोबारी पर रंजिश के तहत फायरिंग की गई थी। अभी तक कारोबारी के परिजनों ने किसी भी तरह की शिकायत नहीं की है।