भाजपा विधायक ने ही सरकार के " नो करप्शन ' के दावे की पोल खोली, कहा - अधिकारी खुलकर कमीशन ले रहे हैं

लखनऊ। गाजियाबाद जिले के लोनी से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) विधायक नंद किशोर गुर्जर ने अपनी सरकार के नो-करप्शन के दावे की धज्जियां उड़ेल दी. विधानसभा सत्र के दौरान विधायक नंद किशोर गुर्जर ने कहा कि अधिकारी खुलकर कमीशन ले रहे हैं. अधिकारियों ने कमीशन खोरी को अपना जन्मसिद्ध अधिकार मान लिया है. एक या दो प्रतिशत ही अधिकारी ईमानदारी दिखा रहे हैं. वाकई में विधायक ने अपने ही सरकार से सच कहने की हिम्मत जुटाया। वैसे, जानकर बताते हैं कि बीजेपी की सरकार में रिश्वत खोरी डबल हो गई है। अधिकारी आम जनता की नहीं सुनते। जवाब भी उल्टे- उल्टे देते हैं। वे दलालों के सहारे रिश्वत खोरी का चोख धंधा करते हैं। अगर कोई शिकायत की बात करता है तो उन्हें जेल भेजवाने की धमकी तक देते हैं। हालात यह है कि लोग सरकारी महकमों में जाने से भी भय खाते हैं।



बीजेपी विधायक नंद किशोर गुर्जर ने कहा, 'सभी अधिकारियों की पत्नी के एनजीओ की जांच करवा लें. सारा सच सामने आ जायेगा. मेरी संपत्ति की जांच करवा लें. जब मैं आवाज उठाता हूं तो मेरे ऊपर मुकदमा लाद दिया जाता है. कैसे मुख्यमंत्री के जीरो प्रतिशत टॉलरेंस का सपना सच होगा. इससे मैं काफी व्यथित हूं.' विधायक ने कल की घटना को लेकर खेद व्यक्त किया।



गौरतलब है कि गाजियाबाद के लोनी से बीजेपी विधायक नंद किशोर गुर्जर पुलिस प्रशासन के रवैए से नाराजगी के चलते मंगलवार को विधानसभा सदन में धरने पर बैठ गए थे. इसके बाद बीजेपी और विपक्ष के तमाम विधायक भी गुर्जर के समर्थन में धरने में शामिल हो गए थे. साथ ही सभी ये नेता विधायक एकता जिंदाबाद के नारे लगा रहे थे. विधायकों को मानने की काफी कोशिशें की गईं, लेकिन वो नहीं माने.


Popular posts
इंडियन पेरोक्साइड लि. ने कोरोना ड्राइव हेतु नोएडा को उपलब्ध कराया हाइड्रोजन पेरोक्साइड, यूपी के अन्य जिलों को भी निःशुल्क मिलेगा दान
Image
" जुग सहस्त्र जोजन पर भानु " हनुमान चालीसा के इस पंक्ति में है धरती से सूर्य की दूरी
Image
जारचा के छोलस में बच्चों के क्रिकेट खेलने को लेकर हुए झगड़े में 4 लोगों की हुई गिरफ्तारी
Image
नोएडा के दीपाक्षी अस्पताल के गेट पर शव को रखने पर हुआ एफआईआर, जांच के लिए उच्च स्तरीय टीम गठित
Image
स्वामी विवेकानंद ग्रामीण विकास सहयोग संस्था झुग्गी- झोपड़ी के मुद्दे को लेकर 27 फरवरी को प्राधिकरण पर होनेवाली धरने का दिया समर्थन
Image