आईएएस रानी नागर के समर्थन में आया भारतीय किसान संगठन

नोएडा। आईएएस अधिकारी रानी नागर के साथ हो रहे उत्पीड़न के खिलाफ भारतीय किसान संगठन, गौतमबुद्ध नगर कंधे से कंधा मिला कर खड़ा हुआ है। इस अवसर पर भारतीय किसान संगठन के जिलाध्यक्ष परविंदर यादव ने कहा कि बड़ा दुख होता है यह सुनकर। जहां पूरा देश कोरोना वायरस की गंभीर महामारी से ग्रस्त है वही जब देश की बेटी अपने घर से एवं अपने स्टेट से दूर रह कर के अपनी ड्यूटी एवं फर्ज निभा रही है। कुछ उच्च अधिकारियों के द्वारा उनका उत्पीड़न की शिकार होकर अपने आप को असुरक्षित महसूस करते हुए सोशल मीडिया के माध्यम से आप बीती बता रही हैं। मामले को संज्ञान में लेने की कोशिश करती हैं।



उन्होंने कहा की आईएएस जैसे महत्वपूर्ण पदों पर रहते हुए भी अपने आप को असहाय महसूस करती रानी नागर अपना इस्तीफा देने जैसा कठोर कदम उठाया है। इसका भारतीय किसान संगठन घोर विरोध करता है। ऐसे पढ़े-लिखे अफसरों अगर ऐसा करेंगे तो आमजन से क्या उम्मीद की जाए। इनसे तो अच्छा अनपढ़ किसान है जो पढ़े लिखो से बढ़कर इस संकट की घड़ी में देश के साथ कंधे से कंधा मिला कर खड़े हुए है।


  राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री एवं गृहमंत्री एवं हरियाणा सरकार के मुख्यमंत्री एवं समस्त प्रशासनिक अधिकारी को जो आईएएस अधिकारियों के अधिकारों एवं कर्तव्यों को संज्ञान में ले और दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई करें। अन्यथा अगर आज समय रहते हुए सही निर्णय नहीं लिया गया तो यह देश अपने आप को जातियों वर्गों एवं लिंगो में बैठकर नित्य रोज नई-नई घटनाओं को जन्म देगा और हम अपने आप को कभी माफ नहीं कर पाएंगे तथा हमारा देश कौन बेटियों के सामने नतमस्तक होगा। जो कड़ी मेहनत कर देश में आधी आबादी का प्रतिनिधित्व करती हैं और देश में सीमा से लेकर हर जगह अपनी उपस्थिति को मजबूती से रखती हैं, आज लड़ाई बेटियों के सम्मान में होनी चाहिए। 


Popular posts
इंडियन पेरोक्साइड लि. ने कोरोना ड्राइव हेतु नोएडा को उपलब्ध कराया हाइड्रोजन पेरोक्साइड, यूपी के अन्य जिलों को भी निःशुल्क मिलेगा दान
Image
" जुग सहस्त्र जोजन पर भानु " हनुमान चालीसा के इस पंक्ति में है धरती से सूर्य की दूरी
Image
जारचा के छोलस में बच्चों के क्रिकेट खेलने को लेकर हुए झगड़े में 4 लोगों की हुई गिरफ्तारी
Image
नोएडा के दीपाक्षी अस्पताल के गेट पर शव को रखने पर हुआ एफआईआर, जांच के लिए उच्च स्तरीय टीम गठित
Image
स्वामी विवेकानंद ग्रामीण विकास सहयोग संस्था झुग्गी- झोपड़ी के मुद्दे को लेकर 27 फरवरी को प्राधिकरण पर होनेवाली धरने का दिया समर्थन
Image